Dajjal कौन हैं ? और कब आएगा

Dajjal कौन हैं ? और कब आएगा

Dajjal का फितना – एक सवाल जो कईं लोगों के मन मे उठता है कि दज्जाल किसको कहते हैं ?
दज्जाल मसीह एक अजाब का नाम है जो कि कुरबे कयामत में आएगा उसकी एक आँख होगी और वो काना होगा उसकी पेशानी पर काफ़िर लिखा होगा जिसे हर मोमिन पढ़ लेगा और दज्जाल को पहचान लेगा और काफिर को नज़र नही आएगा
दज्जाल 40 दिन तक तमाम ज़मीन में फिरेगा और फ़ितने फसाद फैलाएगा लेकिन दज्जाल मक्का शरीफ और मदीना शरीफ में दाखिल नही हो सकेगा
उन 40 दिन में पहला दिन 1 साल के बराबर होगा, दूसरा दिन 1 महीने के बराबर, तीसरा दिन 1 हफ्ते के बराबर और बाकी दिन मामूली दिनों की तरह ही होंगे।

खुदाई का दावा – Dajjal का फितना

दज्जाल खुदाई का दावा करेगा और उसके पास एक बाग और एक आग होगी जिसका नाम वह जन्नत और दोज़ख रखेगा जो उसे खुदा मान लेगा उसे वह अपनी जन्नत (आग) में डालेगा और जो उसका इनकार करेगा उसे वह अपनी दोज़ख (बाग) में डालेगा
दज्जाल बहुत सी अजीब चीजें दिखाएगा ज़मीन से सब्जी उगाएगा आसमान से मीन बरसाएगा और मुर्दे ज़िंदा करेगा

एक मोमिन ए सालेह दज्जाल की तरफ जाएंगे तो उनसे दज्जाल के सिपाही कहेंगे की तुम हमारे रब पर ईमान नही लाते? तो वह कहेंगे कि हमारे रब के दलाइल छुपे हुए नही हैं
फिर दज्जाल के सिपाही उन्हें दज्जाल के पास ले जाएंगे और मोमिन ए सालेह दज्जाल को देखकर कहेंगे कि ए लोगों ये वही दज्जाल है जिसके बारे में रसूल ए करीम ﷺ ने इरशाद फरमाया था
दज्जाल के हुक्म से उन पर जुल्म किया जाएगा
दज्जाल फिर उनसे कहेगा कि तुम अब भी मुझपर ईमान नही लाते तो वो कहेंगे कि तू मसीह एक अजाब है

दज्जाल का रद ए अमल – Dajjal का फितना

दज्जाल के हुक्म से उनका जिस्म सिर से पैर तक चीरकर दो हिस्सों में तकसीम कर दिया जाएगा और फिर उन दोनों हिस्सों के दरमियान दज्जाल चलेगा और कहेगा उठ तो वो तंदुरुस होकर उठ खड़े होंगे और फिर कहेगा कि तुम मुझ पर ईमान लाते हो तो वह कहेंगे मेरी बसीरत और भी ज्यादा हो गयी है ए लोगों! अब मेरे बाद ये दज्जाल किसी के भी साथ ऐसा नही कर सकता
दज्जाल सभी लोगों को पकड़कर ज़िबह करना चाहेगा लेकिन इस नही कर सकेगा।
फिर वो उन्हें अपनी जहन्नम में डाल देगा जो कि हकीकत में जन्नत होगी
(किताबुल अक़ाइद, पेज 28

2 Comments on “Dajjal कौन हैं ? और कब आएगा”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *